कब्ज क्या है?

कब्ज (Constipation) एक ऐसी समस्या है जिसके कारण मरीज का पेट ठीक से साफ नहीं होता और शौच के दौरान काफी दिक्कतें आती हैं । इस कारण रोगी को कई बार शौच के लिए जाना पड़ता है। पेट साफ ना होने के कारण पूरे दिन आलस्य बना रहता है। किसी काम में मन नहीं लगता। कब्ज की परेशानी के कारण मल त्यागने के लिए ज्यादा जोर लगाना पड़ता है, घण्टों बैठे रहना पड़ता है।इस समस्या से ठीक होने के लिए डॉ रूचि भरद्वाज से मिल कर इस परेशानी से मुक्ति पा सकते है ! ACTIVE आयु लाइफ पे आ कर अपनी समस्या से छुटकारा पा सकते है तो बीमारी को बढ़ाये न जल्दी संपर्क करे!

 

कब्ज क्या है?

आयुर्वेद के अनुसार, शरीर का संतुलन वात, पित्त, कफ दोषों पर निर्भर करता है। इनमें हुए असंतुलन के कारण शरीर रोगों से घिर जाता है। खान-पान एवं जीवनशैली में लापरवाही के कारण जब जठराग्नि मन्द हो जाती है, तथा आहार सही समय पर ठीक प्रकार से नहीं पचता। इससे शरीर के दोष असंतुलित तथा दूषित होकर रोग उत्पन्न करते हैं। कब्ज में मुख्यतः वात दोष की दुष्टि होती है, जिस कारण मल सूखा एवं कठोर हो जाता है। सही समय पर मलत्याग नहीं हो पाता।

कब्ज होने के कारण

  1. भोजन में रेशेदार आहार की कमी होना।
  2. मैदे से बने एवं तले हुए मिर्च-मसालेदार भोजन का सेवन करना।
  3. पानी कम पीना या तरल पदार्थों का सेवन कम करना।
  4. समय पर भोजन ना करना।
  5. रात में देर से भोजन करना।
  6. देर रात तक जागने की आदत।
  7. अधिक मात्रा में चाय, कॉफी, तंबाकू या सिगरेट आदि का सेवन करना।
  8. भोजन पचे बिना ही दोबारा भोजन करना।
  9. चिन्ता या तनावयुक्त जीवन जीना।
  10. हार्मोन्स का असंतुलन या थायराइड की परेशानी होना।

Leave a Reply